B.Ed Full Form In Hindi | B.Ed क्या है पूरी जानकारी

B.Ed Full Form In Hindi, नमस्कार दोस्तों, आपको फिर से एक बार स्वागत है हमारे आज के इस में जानकारी में, आज हमारे जानकारी के विषय हैं B.Ed kya hai . दोस्तों क्या आप भी B.Ed के बारे में जानना चाहते हैं , क्या आप भी सोच रहे हैं कि B.Ed करके सरकारी नौकरी कैसे लिए जाते हैं , तो आप बिल्कुल सही जगह पर आए हैं.

आज हम आपको B.Ed से जुड़ी हुई सभी महत्वपूर्ण तत्व देने वाले हैं जैसे कि B.Ed Full Form in hindi , B.Ed Course कैसे करें और B.Ed करने के फायदे आदि. दोस्तों इन सब जानकारी को प्राप्त करने के लिए हमारे साथ अंत तक बने रहे.

B.Ed kya hai / What is B.Ed

दोस्तों अगर आप एक टीचर बनना चाहते हैं तो आपके लिए B.Ed कोर्स बहुत ही महत्वपूर्ण है. सरकारी नियमों के मुताबिक अगर आप एक सरकारी इया वेसरकारी टीचर बनना चाहते हैं तो आपके लिए B.Ed कोर्स करना आवश्यक है.

B.Ed का फुल फॉर्म है BACHELOR OF EDUCATION . यह एक पोस्ट ग्रेजुएट कोर्स है, जहां पर सिखाया जाता है कैसे टीचर बनते हैं, कैसे स्टूडेंट्स को पढ़ाया जाता है. B.Ed करके आप सीख सकते हैं कैसे एक स्कूल में विद्यार्थी को सही तरीके से पढ़ाते हैं. तो दोस्तों अगर आप निश्चित कर चुके हैं कि आप पढ़ाना चाहते हैं, एक टीचर बनना चाहते हैं, तो आप B.ed के लिए अप्लाई कर सकते हैं.

B.Ed Full Form In Hindi

B.Ed का फुल फॉर्म है ( Full form of B.Ed ) BACHELOR OF EDUCATION. दोस्तों अगर आप टीचिंग और एजुकेशन की तरफ जाना चाहते हैं तो B.Ed आपके लिए एक सबसे बढ़िया Under Graduate Professional degree Course है. इस डिग्री को BT के नाम से भी जाना जाता है Bachelor of Teaching.

B.ED FULL FORM – BACHELOR OF EDUCATION

B.ED KA FULL FORM IN HINDI – शिक्षा में स्नातक

यह भी पढ़ें 

  1. OSS Full Form और OSS क्या है हिंदी में
  2. NCL क्या है? NCL Full form in English and Hindi
  3. NOC full form in hindi – NOC क्या है, फायदा, उद्देश्य और कार्य
  4. OSD Full Form और OSD का मतलब क्या है हिंदी में

B.Ed Course कैसे करें

https://youtu.be/eWaG6Jdu-7M
Credit : LEARNING NEVER ENDS With poonam

एक स्कूल टीचर बनना हो या एक कॉलेज में प्रोफेसर बनना हो सबसे पहले आपको  12 पास करना होगा. अगर आप सोच रहे हैं की कौन सी subject के ऊपर B.Ed कोर्स करें ? तो आप 10th पास करने के बाद वही सब्जेक्ट को चुने जिस subject को आप स्कूल में एक टीचर के तौर पर पढ़ाना चाहते हैं. जैसे कि अगर आप स्कूल में हिंदी subject पर आना चाहते हैं तो आपको क्लास इलेवन में हिंदी subject को चुनना होगा.

दोस्तों B.Ed कोर्स करने के लिए आपको सबसे पहले एंट्रेंस एग्जाम के फॉर्म फिल अप करना पड़ता है, फॉर्म फिल अप करने के बाद आपको entrance exam देना पड़ता है. Entrance exam देने के बाद merit list निकल कर आते हैं. मेरिट लिस्ट के अनुसार कॉलेज में नौकरी का चुनाव किया जाता है.  इसी के माध्यम से आपको सरकारी स्कूल में नौकरी मिलते हैं.

B.Ed Course Qualification 

इस कोर्स को आप तभी कर सकते हैं जब आपका ग्रेजुएशन पूरी हो, मतलब यह एक ग्रेजुएशन के बाद किए जाने वाले एक कोर्स है. दोस्तों क्या आप जानना चाहते हैं B.Ed कोर्स के लिए क्या क्या योग्यताएं है / Qualification of B.Ed ?

Serial No. Qualification
1. 12th पास करें B.Ed कोर्स के लिए.
2. 12th पास करने के बाद आपको ग्रेजुएशन करना होगा उसी सब्जेक्ट के ऊपर जिसके ऊपर आप स्कूल में पढ़ाना चाहते हैं. 
3. किसी भी सब्जेक्ट के ऊपर ग्रेजुएशन पूरी करें.
4. ग्रेजुएशन में 50% मार्क्स इया उससे ऊपर होना चाहिए. ( यह मार्क्स कॉलेज के ऊपर निर्भर करता है. )

B.Ed Course Duration

B.Ed कोर्स के लिए एडमिशन लेने के बाद आप इस B.Ed Course पराई शुरू कर सकते हैं. दोस्तों यह B.Ed कोर्स पूरे 2 साल का कोर्स होता है. उसके बाद ही आप स्कूल के नौकरी के लिए परीक्षा दे सकते हैं और परीक्षा देकर ही स्कूल में आपका नौकरी मिल सकते हैं और आप पढ़ाना शुरू कर सकते हैं.

Serial No. Course Variation Duration ( Time )
1. B.Ed course after post graduation 1 years
2. B.Ed course after graduation 2 years
3. B.Ed course after 12th – 4 years 4 years

कॉलेज फीस हारे कॉलेज के लिए अलग-अलग होते हैं यह निर्भर करता है कॉलेज की  rank, position, reputation और facility के ऊपर. यह सब चीज के ऊपर निर्भर करते हैं आपके कितनी फीस लग सकते हैं, इसके साथ government और private कॉलेज के ऊपर फीस काफी कम ज्यादा होते हैं.

B.Ed के कोर्स के आवेदन कैसे करें :

दोस्तों बीएड कोर्स करने के लिए आपको सबसे पहले 10th, 12th और graduation के प्राइस पूरी करना होगा बिना इन सब पढ़ाई किए आप B.Ed नहीं कर सकते हैं. जब भी आपका 10th , 12th पास हो जाता है और ग्रेजुएशन भी पूरी हो जाती है तभी आप B.Ed कोर्स के लिए आवेदन कर सकते हैं.

अगर आपका यह सब अब्शाक्ताये है पूरी हो जाते हैं और आप ग्रेजुएशन 50% मार्क्स के साथ पास करते हैं तो आप B.Ed कोर्स के लिए अप्लाई कर सकते हैं. इस कौसे को आप प्राइवेट कॉलेज , गवर्नमेंट कॉलेज और तो और डिस्टेंस एजुकेशन कॉलेज के माध्यम से भी पूरा कर सकते हैं.

B.Ed Course को कहाँ से करें

दोस्तों आप arts, commerce science किसी भी स्ट्रीम से B.Ed कोर्स को कर सकते हैं. B.Ed की vacancy के लिए हर साल फरवरी और मार्च के महीने में ऑनलाइन form fill up के सुविधा मिलते हैं. Form fill up करके आप B.Ed के entrance exam दे सकते हैं, यह परीक्षा जून इय्स जुलाई के महीने में होता है. भारत के हर एक स्टेट के अलग-अलग entrance exam होते हैं जैसे कि.

Seral No. Popular B.ED College in India
1. Lady Irwin College, Delhi
2. SNDT Women’s University, Mumbai
3. Andhra University, Visakhapatanam
4. Jamia Millia Islamia University, Delhi
5. Lady Shri Ram College for Women, Delhi
6. St. Xavier’s College of Education, Patna
7. Banaras Hindu University (BHU), Varanasi
8. Bombay Teacher’s Training College, Mumbai
9. D.M. College of Teacher Education, Imphal
10. Kasturi Ram College of Higher Education, Delhi
11. Government College of Education, Chandigarh
12. Himachal Pradesh University, Department of Education, Shimla

B.Ed के बाद रोजगार के क्षेत्र

B.Ed कोर्स करने के लिए आपके पास मूल रूप से 3 तरीके हैं,यह तो आप किसी सरकारी कॉलेज से या फिर आप किसी प्राइवेट कॉलेज से, या फिर आप डिस्टेंस से किसी कॉलेज से कोर्स को पूरा कर सकते हैं. पर सबसे फायदेमंद और असरदार तरीके हैं किसी अच्छे सरकारी कॉलेज से रेगुलर B.Ed डिग्री लेना, जिससे आपका B.Ed के बाद रोजगार के क्षेत्र भी अच्छे मिल सकते हैं. जैसे कि,

Serial No. B.ED के बाद जॉब प्रोफाइल
1. Teacher
2. Principle
3. Counsellor
4. Instructor
5. Librarian
6. Administrator
7. Assistant Dean
8. Content Writer
9. Military Trainer
10. Syllabus Designer
11. Education Researcher

B.Ed के बाद किए जाने वाले कोर्स

B.Ed एक टीचिंग और एजुकेशन के तरफ जाने के लिए कोर्स है. इस कोर्स को करके आप सरकारी और बेसरकारी स्कूल में नौकरी कर सकते हैं, और एजुकेशन से जुड़ी हुई कई सारे काम कर सकते हैं. पर जॉब के अलावा भी आप B.ed करके और भी कई सारे कोर्स कर सकते हैं तो चलिए जानते हैं, B.Ed के बाद किए जाने वाले कोर्स के बारे मे.

B.Ed कोर्स को करने के बाद आप M.Ed. , M.A. , M.Phil. , PhD आदि जैसे कोर्स को कर सकते हैं.

बीएड कोर्स की फीस / Fees for B.ed

दोस्तों सबसे पहले तो आपको कोशिश करना है B.Ed के entrance exam देकर अच्छे rank लाना और उसके बाद एक अच्छे सरकारी कॉलेज से B.Ed कोर्स को करना.

दोस्तों यदि आप इस कोर्स को कैसे प्राइवेट कॉलेज से करते हैं तो इसका course fees ज्यादा लगता है और अगर आप इस कोर्स को किसे गवर्नमेंट इया open source कॉलेज के माध्यम से करते हैं तो उस course का fees कम लगता है.

Course Total B.Ed की फीस (Government College) Total B.Ed की फीस (Private College)
B.Ed course after 12th ( 4 years ) 40,000 – 60,000 2,00,000 – 4,00,000
B.Ed course after graduation ( 2 years ) 20,000 – 30,000 1,00,000 – 2,00,000
B.Ed course after post graduation ( 1 years ) 10,000 –  15,000 50,000 – 10,0000

B.Ed करने के बाद वेतन / Salary after B.Ed

अगर B.Ed के बाद वेतन के बात करें तो कई बात सामने आते हैं जैसे कि अगर आप किसी सरकारी कॉलेज से रेगुलर B.Ed कोर्स करके निकलते हैं तो उसका फायदे भी ज्यादा रहते हैं और एक अच्छे स्कूल में सरकारी नौकरी के साथ-साथ एक अच्छी वेतन मिलने का संभावना भी ज्यादा रहते हैं.

दोस्तों यह निश्चित रूप से नहीं कहा जा सकता है कि आपको बीएफ के बाद कितने वेतन मिल सकते हैं, यह हर एक राज्य के हर एक स्कूल के ऊपर निर्भर करते हैं. और इसके साथ-साथ आप किस विषय में पर आएंगे उसके ऊपर भी निर्धारित है आपको B.Ed के बाद कितने वेतन मिलेंगे, पर अगर अनुमानित रूप से बताए तो आपको साल के 3 से 5 लाख रुपए के बीच शुरुआत में वेतन मिल सकते हैं.

B.Ed करने के फायदे / Benefits of B.Ed

B.Ed कोर्स टीचर बनने के लिए सबसे फायदेमंद है. B.Ed कोर्स को करने के बाद आप किसी भी सरकारी इया वेसरकारी स्कूल में पढ़ा सकते हैं. इस कोर्स को करके आप खुद के ज्ञान को बढ़ाने के साथ-साथ दूसरों को भी सिखा सकते हैं. तथा टीचिंग लाइन में आप खुद के कैरियर को लेकर जा सकते हैं.

  • दोस्तों B.Ed कर के टीचर बनने के बाद सबसे बड़े जो फायदे हैं वह है सन्मान. एक टीचर को ही समाज में सबसे ज्यादा सन्मान मिलते हैं.
  • B.Ed कोर्स में बोलना सिखाया जाता है ( communication skill ) जो किसी भी काम के लिए सबसे ज्यादा जरूरी होता है, पढ़ाने के तरीके को सिखाया और समझाया जाता है. मतलब B.Ed कोर्स करने के साथ साथ आपका बोलने का क्षमता भी बढ़ता है.
  • टीचिंग एक ऐसे प्रोफेशन है जहां से आप सिखाने-सिखने के साथ-साथ बिना किसी लॉस और मुनाफा के चिंता किए बिना अपने जीवन को अच्छे तरीके से जी सकते हैं. 
  • समाज में टीचिंग ही एकमात्र प्रोफेशन है जहां पर सबसे ज्यादा छुट्टियां मिलते हैं और यही एकमात्र जॉब है जहां से आप किसी भी कारण से छुट्टी के दरखास्त देकर  आसानी से छुट्टी ले सकते हैं.
  • मेरे ख्याल से टीचर के वेतन भी एक अच्छे फायदे हैं, जहां पर आपको पैसे की चिंता करने की कोई भी जरूरत नहीं पड़ता है महीने गुजरते ही आपके बैंक में पैसे डाल दिए जाते हैं.

यह भी पढ़ें 

  1. OSS Full Form और OSS क्या है हिंदी में
  2. NCL क्या है? NCL Full form in English and Hindi
  3. NOC full form in hindi – NOC क्या है, फायदा, उद्देश्य और कार्य
  4. OSD Full Form और OSD का मतलब क्या है हिंदी में

आपने क्या सीखा

दोस्तों आज हम B.Ed ( Bachelor of Education ) के बारे में बात किए हैं यहां पर हम आज आपको बताए हैं ( B Ed Full Form ) बी एड फुल फॉर्म के बारे में (bed full form in hindi). और आपको दिए हैं B.Ed से जुड़ी हुई सभी महत्वपूर्ण जानकारियां.

आज आप इस पोस्ट के माध्यम से सीखे हैं B.Ed Course कैसे करें और B.Ed करने के फायदे के बारे में  यदि आपको हमारे आज के यह जानकारी फायदेमंद लगे हैं तो आप हमारे इस पोस्ट को अपने दोस्तों के साथ शेयर करें. दोस्तों आज हम हमारे जानकारी के सफर को ही पर समाप्त करते हैं और आपसे मिलते हैं हमारे अगले नई जानकारी के साथ. तब तक के लिए स्वस्थ रहिए खुश रहिए.

Leave a Comment