CDO Full Form in Hindi | CDO अधिकारी कैसे बने संपूर्ण हिंदी में पूरी जानकारी 2022

नमस्कार दोस्तों स्वागत है आपका हमारे आज के नई जानकारी में, क्या आप जानना चाहते हैं CDO Full Form in Hindi , CDO Officer Kaise Bane तो आप बिल्कुल सही जगह पर आए. आज हम यहां पर आपको सीडीओ के बारे में संपूर्ण जानकारी प्राप्त करवाएंगे. जिसे हम Chief Development Officer तथा मुख्य विकास अधिकारी के नाम से जानते हैं. 

मुख्य विकास अधिकारी जिले में जिला अधिकारी के बाद सबसे महत्वपूर्ण अधिकारी होते हैं. CDO अधिकारी पंचायत राज व्यवस्था के अंतर्गत रहेकर गांव और गांव वासी के लिए सरकार द्वारा सुनिश्चित कार्य कार्य को करता है. उनका जिम्मेदारी होता है सरकार द्वारा आयोजित योजनाओं और भाता को लोगों तक पहुंचाना.

CDO Full Form in Hindi

दोस्तों ऐसे ही CDO से जुड़ी बहुत सारे बातें हैं, सभी जानकारी को प्राप्त करने के लिए हमारे साथ अंत तक जरूर बने रहे क्योंकि हम आपको बताने जा रहे हैं CDO कौन होता है , CDO का काम क्या होता है , Benefits of CDO , Salary of CDO Officer , CDO बनने के लिए आवश्यकता , सीडीओ बनने की योग्यता आदि.

CDO का फुल फॉर्म / CDO Full Form in Hindi

CDO का फुल फॉर्म है ( Full Form of CDO ) “ Chief Development Officer “ और सीडीओ का हिंदी मतलब है तथा हिंदी में सीडीओ का अर्थ है ( CDO Full Form in Hindi ) “ मुख्य विकास अधिकारी “ . Chief Development Officer जोकि हमारा आज का बातचीत का विषय है. लेकिन सीडीओ का फुल फॉर्म अलग-अलग sector में अलग-अलग है, जैसे कि

CDO Full Form in Various Field

Serial No. CDO Full Form In Category CDO Full Form
1. C D O Full Form Chief Development Officer
2. CDO Full Form In Hindi मुख्य विकास अधिकारी
3. CDO Full Form In Networking Communication Data Objects
4. CDO Full Form In Finance Credit Default Option
5. CDO Full Form In Military Command Duty Officer
6. CDO Full Form In Police Civilian Detention Officer
7. CDO Full Form In Meteorology Central Dense Overcast
8. CDO Full Form In IT Department Chief Data Officer
9. CDO Full Form In Medical Chronic Duodenal Obstruction
10. CDO Full Form In General Corporate Development Officer

यह भी पढ़ें 

  1. SDO Full Form in Hindi और कैसे बने हिंदी में पूरी जानकारी
  2. BDO Full Form in Hindi | BDO Officer Kaise Bane
  3. ADO Full Form in Hindi | सहायक ग्राम विकास अधिकारी का भर्ती
  4. SDM Full Form in Hindi | SDM कैसे बने
  5. DM Full Form in Hindi | District Magistrate कैसे बनें

CDO कौन होता है / Who is CDO ( Chief Development Officer )

हमारे देश में पंचायती राज व्यवस्था के अंतर्गत गांव के विकास के लिए कई तरह के पंचायतों का स्थापना किए गए हैं, जिससे पंचायती राज नेताओं के माध्यम से जिले की हर एक गांव की विकास किया जा सके. और इसी कारण मुख्य विकास अधिकारी ( Chief Development Officer ) की नियुक्ति की गई है, जोकि जिला पंचायत के विकास में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं.

मुख्य विकास अधिकारी को अंग्रेजी में Chief Development Officer कहते हैं जिसे संक्षेप में लोग इसे CDO कहते हैं. मुख्य विकास अधिकारी प्रदेश के हर जिले मैं विकास की गतिविधियों के ऊपर जिम्मेदार होते हैं. इसके अलावा मुख्य विकास अधिकारी (CDO) जिला पंचायत (DM) के Secretary के तौर पर काम करते हैं. 

IAS Officer इया Senior PCS Officer एक CDO अधिकारी बन सकते हैं. आईएएस ऑफिसर एक सीडीओ ऑफिसर बन सकते हैं लेकिन उनके पास कम से कम 2 साल का काम का अनुभव होना चाहिए. एक पीसीएस ऑफिसर को सीडीओ ऑफिसर बनने के लिए उन्हें कम से कम 7 से 8 साल का काम का अनुभव होना चाहिए.

CDO का काम क्या होता है?

मुख्य विकास अधिकारी ( Chief Development Officer ) जिला स्तर पर काम करते हैं. जिला की विकास विभाग में मुख्य विकास अधिकारी सबसे उच्च स्तर पर रहते हैं. चलिए जानते हैं सीओडी अधिकारी का काम क्या होता है.

  1. इनका काम होता है scholarship से संबंधित जितने भी मामले रहते हैं, उनका सुधार करते हैं और देखरेख करते हैं.
  2. केंद्र सरकार की तरफ से कई सारी योजनाओं को निकाले जाते हैं, राज्य सरकार के तरफ से कई सारे योजनाओं बनाए जाते हैं, इन योजनाओं को निचले स्तर तक लागू करने का जिम्मेदारी CDO के ऊपर होता है.
  3. सरकार के तरफ से  किसानों के लिए बहुत सारे subsidies रहते हैं, यह subsidies डिस्ट्रिक्ट तक पहुंचने के बाद इन योजनाओं को CDO के देखरेख की माध्यम से किसानों को दी जाती है.
  4. गांव की जितने भी विकास के काम होते हैं, जैसे कि घर बनाना, सड़क योजना, इसके अलावा भी कई तरह के यह योजनाओं के पैसे की जिम्मेदारी CDO के ऊपर होते हैं.
  5. विकास से संबंधित जितने भी काम होते हैं, जैसे कि scholarship, Subsidies, development, खाद्य से संबंधित मामले, योजनाओं को लागू करने से संबंधित काम करते हैं और उनके साथ हो संबंध रखते हैं और काम करते हैं. 
  6. CDO जाकर देखते हैं कि सही तरीके से काम हो रहे हैं या नहीं,अगर सही तरीके से काम नहीं चलते हैं, तो वह इसके ऊपर कारवाई भी कर सकते हैं.

सीडीओ बनने का फायदा / Benefits of CDO

दोस्तों क्या आप जानते हैं एक CDO Officer को अच्छे सैलरी देने के साथ-साथ सरकार के तरफ से बहुत सारे facilities और benefits मिलते हैं. यह सब देखते हुए एक CDO Officer काफी मेहनत के बाद भी ज्यादा से ज्यादा फायदेमंद रहते हैं, तो चलिए जानते हैं, सीडीओ बनने का फायदा ( Benefits of CDO ) के बारे में.

  1. CDO अधिकारी को जो security मिलती है वह इस नौकरी की सबसे खास बात है.
  2. CDO अधिकारी को मुक्त टेलीफोन की सुविधा.
  3. रहने के लिए मुफ्त सरकारी आवास. 
  4. यात्रा के लिए गाड़ी और उसके साथ driver भी दिए जाते हैं.
  5. CDO अधिकारी को मुफ्त बिजली की सुविधा.
  6. चिकित्सा के लिए मेडिकल और मेडिसिन का सुविधा.

इसके अलावा सीडीओ अधिकारी को सभी सरकारी यान में मुफ्त में सफर करने की सुविधा दिए जाते हैं, और सरकारी हर छुट्टियों में इनका छुट्टियां शामिल होते हैं, ऐसे ही बहुत सारे सुविधा CDO अधिकारी को दी जाती है.

CDO Officer Kaise Bane / सीडीओ अधिकारी कैसे बने

https://youtu.be/70vrLpt_rXM
Credit : Sarkari Naukri Exam

सीडीओ ऑफिसर एक सरकारी प्रशासनिक पद है. इस पद में नियुक्ति इसकी प्रवेश परीक्षा द्वारा किए जाते हैं. इस पद के लिए प्रवेश परीक्षा तथा entrance exam “ राज्य लोक सभा आयोग “ ( State Public Service Commission ) द्वारा की जाती है. सीडीओ बनने के लिए आपका graduation पास होना जरूरी होता है. 

State Public Service Commission परीक्षा हर साल आयोजित होती है. CDO ऑफिसर बनने के लिए हमें किस से अच्छे मान्यता प्राप्त यूनिवर्सिटी या कॉलेज ( recognized university/college ) से किसी भी विषय में अच्छे अंकों के साथ graduation की डिग्री हासिल करनी होती है. 

CDO बनने के लिए आवश्यकता 

दोस्तों जब आप आपके ग्रेजुएशन पूरी हो जाए तब आप सबसे पहले राज्य लोक सभा आयोग की official website में जाकर CDO exam form के लिए आवेदन करें. आवेदन करने के समय आप ध्यान रखें कि आपकी सारी जानकारी आप वहां पर सही सही डाल रहे हैं. क्योंकि परीक्षा में पास होने के बाद आपके सभी document verification किए जाते हैं.

CDO entrance exam 3 दफा में होते हैं, पहले परीक्षा में MCQ type के प्रश्न आते हैं जिसे Preliminary Examination कहां जाता है, दूसरे दफा में लिखित परीक्षा होते हैं जिसे Mains Examination कहां जाता है और आखिर में interview होते हैं. सीडीओ अधिकारी बनने के लिए आपको इन तीनों परीक्षा में सफल होना होता है. तभी आपको  Chief Development Officer का पद प्राप्त होता है

सीडीओ बनने की योग्यता / Eligibility to become CDO

CDO बनने का कुछ आवश्यकता है ( Eligibility to become CDO ) जिसके बारे में आपको जरूर जाना चाहिए. Graduation में पासका सिर्फ pass marks होने पर ही आप इस फॉर्म को भर सकते हैं मतलब सीडीओ बनने का प्रयास कर सकते हैं. ग्रेजुएशन आप किसी भी stream से किया हो आप इस फॉर्म को भर सकते हैं. जैसे कि

Qualification Required

Serial No. योग्यता होना चाहिए Course का Full Form
1. BA Bachelor of Arts
2. B.Com Bachelor of Commerce
3. BBA Bachelor of Business Administration
4. BCA Bachelor’s in Computer Application
5. Engr Engineering
6. Medical None
7. Hotel Management None

सीडीओ बनने का Age limit कितना है?

चलिए अब हम जानते हैं CDO बनने के लिए age limit क्या है. दोस्तों हर राज्य के लिए सरकार द्वारा निर्धारित एज लिमिट है, फिर भी मान के चलिए CDO बनने के लिए न्यूनतम आयु होना चाहिए 21 होना साल और अधिकतम आयु होना चाहिए 40 साल.

यह एज लिमिट सभी के लिए समान है, इससे कम या ज्यादा उम्र के लोग इस फॉर्म को नहीं भर सकते हैं. आप जींस स्टेट का फॉर्म भरते हैं जो छूट मिलेगी वह उसी state के लोगों के लिए होगी. दूसरे स्टेट के लिए फॉर्म भरते हैं तो उस स्टेट का age limit लागू होगा और इसके लिए आपको उस स्टेट का एज लिमिट देखना पड़ेगा.

Age Criteria

Serial No. Caste Category Age Criteria Attempt (Upto over age)
1. General category 21 – 40 Years 0th
2. OBC category 21 – 40 Years 3th
3. SC / ST category 21 – 40 Years 5th

CDO बनने के लिए क्या Qualification होना चाहिए

CDO बनने के लिए मतलब UPSC CSE का फॉर्म भरने के लिए आपका graduation पास होना जरूरी है. अगर आप न्यूनतम नंबर से ग्रेजुएशन पास करते हैं फॉर्म भर सकते हैं. फॉर्म भरने के बाद आपको मौका मिलेगा एग्जाम देने का, दोस्तों सीडीओ बनने के लिए आपको 3 दफा में परीक्षा देना पड़ता है.

प्रारंभिक परीक्षा / Preliminary Examination

Preliminary Examination के लिए , इसमें आपको MCQ ( Multiple Choice Question ) solve करना पड़ता है. यहां पर आप कौन हैं 2 paper देने पड़ते हैं General Studies 1 और General Studies 2 . General Studies 1 मैं कुल 150 प्रश्न होते हैं, जोकि 200 नंबर के होते हैं और General Studies 2 मैं कुल 100 प्रश्न होते है जोकि 200 नंबर के होते हैं. 

Type of Paper

1. General Studies 1

2. General Studies 2

Preliminary Examination मैं question 10th level के ही होते हैं. इन दोनों paper solve करने के लिए आपको समय मिलता है 2 घंटे करके. Paper 2 सिर्फ एक qualifying paper है, merit list बनाने के लिए इस नंबर को जोड़ा नहीं जाता है. इसमें आपको 33% मार्क्स लाना आवश्यक है, तभी आप mains exam में बैठ सकते हैं.

मुख्य परीक्षा / Mains Examination

Mains Examination स्टेट UPSC CSE के लिए काफी महत्वपूर्ण है क्योंकि यही परीक्षा आपको फाइनल एग्जाम तक लेकर जा सकते हैं. इस परीक्षा में कुल 8 पेपर होते हैं General Hindi, Essay, General Studies I, General Studies II, General Studies III, General Studies IV, Optional Subject – Paper I, Optional Subject – Paper II. सभी पेपर के लिए आपको 3 घंटे करके समय दिए जाते है. 

Type of Paper

Serial No. Name Of Paper
1. General Hindi
2. Essay
3. General Studies I
4. General Studies II
5. General Studies III
6. General Studies IV
7. Optional Subject – Paper I
8. Optional Subject – Paper II

साक्षात्कार परीक्षा / Interview Examination

दोस्तों जब आप Preliminary Examination और Mains Examination देकर पास हो जाते हैं तब बाड़ी आता है Interview Examination का. Interview मैं आपसे 200 marks का प्रश्न पूछा जाता है जिसमे आपको कई की तरह के जश्न का उत्तर देना होता है. Interview के माध्यम से ही CDO अधिकारी को चुना जाता है तो इसलिए आपके लिए interview सबसे महत्वपूर्ण है.

परीक्षा ( Examination ) के इन 3 stage चीजों को पूरा करने के बाद ही आप CDO के लिए चुने जाएंगे. ध्यान रखिएगा आपको तीनों क्षेत्र के परीक्षा में एक दफा में पास करना है, अगर आप लिखित परीक्षा में पास होते हैं और interview में फेल करते हैं, तो आपको दोबारा से इन तीनों परीक्षा देना होगा. 

1. Preliminary Examination Syllabus

Preliminary Examination की Paper 1 में आप से Current Affair, Indian History, India and World Geography, General Knowledge, Economy, Political Science And Social Development से प्रश्न पूछा जाता है. Preliminary Examination की Paper 2 में आप से Mathematics, Reasoning, English और Hindi से प्रश्न पूछा जाता है.

2. Mains Examination Syllabus

General Hindi से 50 नंबर का प्रश्न पूछा जाता है, Essay Writing मैं तीन टॉपिक से 700 words के लिखना है, General Studies के 4 paper होते हैं जोकि 200 नंबर करके रहेते हैं. पहले 3 paper में Indian History, Economics, World Geography, Disaster, Current Affairs से प्रश्न पूछा जाता है और paper 4 में Ethics से प्रश्न पूछा जाता है. Optional Subject के ऊपर कुल 29 subject होते हैं जिसमें से आपको किसी भी एक विषय के ऊपर परीक्षा देना पड़ता है.

3. Interview Examination Syllabus

इंटरव्यू के लिए निर्धारित कोई सिलेबस नहीं है, आपसे कुछ भी विषय के ऊपर प्रश्न पूछा जा सकता है, आपको किताब से भी प्रश्न पूछा जा सकता है और आपके जिला के बारे में भी पूछा जा सकता है. यहां पर आपसे जो भी प्रश्न पूछा जाता है उनका उत्तर आपको बहुत ही सोच समझ कर और सही ढंग से देना होता है.

Salary of CDO Officer / सीडीओ अधिकारी का वेतन 

दोस्तों चलिए आप जान लेते हैं ब्लॉक की सबसे interesting विषय के बारे में, जोकि है Salary of CDO Officer / सीडीओ अधिकारी का वेतन कितना होता है. CDO Officer को 7th Pay commission implementation के आधार पर हर महीने 37,400 – 67,000 मिलती है. सीआईडी अधिकारी को वेतन का अलावा कई सारे सुविधा भी मिलते हैं.

यह भी पढ़ें 

  1. SDO Full Form in Hindi और कैसे बने हिंदी में पूरी जानकारी
  2. BDO Full Form in Hindi | BDO Officer Kaise Bane
  3. ADO Full Form in Hindi | सहायक ग्राम विकास अधिकारी का भर्ती
  4. SDM Full Form in Hindi | SDM कैसे बने
  5. DM Full Form in Hindi | District Magistrate कैसे बनें

आपने क्या सीखा

CDO अधिकारी का काम बहुत ही जिम्मेदारी का काम होता है, सीडीओ अधिकारी जिले की विकास के लिए काम करते हैं, और लोगों के मदद करते हैं. दोस्तों सीडीओ बनने के लिए बहुत ही मेहनत करना पड़ता है. अगर आप एक सीडीओ अधिकारी बनना चाहते हैं तो आपको उसके अनुसार मेहनत भी करना होगा. 

हमारे दिए गए विषय के ऊपर गौर करके अगर आप इसके तैयार ही आज से ही करना शुरू करें तो आप जल्दी ही सफलता प्राप्त कर सकते हैं. दोस्तों आज हम सीडीओ से जुड़ी हुई सम्पूर्ण जानकारी दिए हैं, हम आपको इस लेख के माध्यम से बताएं हैं CDO Full Form in Hindi (सीडीओ फुल फॉर्म इन हिंदी) (CDO ka full form), CDO Officer Kaise Bane , CDO बनने के लिए क्या Qualification होना चाहिए आदि.

CDO से जुड़ी हुई यह पोस्ट आपको पसंद आए हैं हम आशा करते हैं. दोस्तों अगर आपको हमारे आज के यह लेख जानकारी पूर्ण और महत्वपूर्ण लगे हैं तो इसे अपने दोस्तों के साथ जरूर share करें. आज हम हमारे इस सफर को यहीं पर समाप्त करते हैं और आपसे मिलते हैं अगले नए जानकारी के साथ, तब तक के लिए स्वस्थ रहिए खुश रहिए.

Leave a Comment

en_USEnglish