NOC full form in hindi – NOC क्या है, फायदा, उद्देश्य और कार्य 2022 हिंदी मे

दोस्तों फिरसे हम आपके के सामने एक नया जानकारी लेकर हाजिर हूं, इस पोस्ट में आप जानने वाले हैं NOC full form in hindi, NOC क्या होता है NOC का उद्देश क्या है, NOC का काम कहां होता है और NOC लेना क्यों जरुरी है. तो दोस्तों इन सभी महत्वपूर्ण जानकारी को प्राप्त करने के लिए हमारे पोस्ट में अन्त तक बने रहिए.

किसी भी लोन की लास्ट यह माई चुकाने के बाद आप सोचते हैं हमारे लोन समाप्त हो गए हैं और हम अब निश्चिंत होकर रह सकते हैं. लेकिन अगर वह bank आपके ऊपर केस डाल देते हैं तो आप कैसे साबित करेंगे कि आप पूरा लोन चूका दिया है. इसके लिए आपको एक NOC लेनी पड़ेगी, तो आप समझ सकते हैं NOC किस चीज से जूरी हुयी है. 

NOC full form in hindi

सबसे पहले जानते हैं NOC का पूरा नाम क्या है (NOC full form in hindi), NOC के बारे में आपने कई बार सुना होगा आज इसके मतलब भी समझते हैं. NOC को अंग्रेजी में No Objection Certificate कहा जाता है, No Objection Certificate का संक्षिप्त रूप NOC होता है. इसका हिंदी अर्थ अनापाति प्रमाण पत्र कहा जाता है, यानी कोई आपत्ति नेही होने की प्रमाण पत्र.

NOC Full FormNOC का फुल फॉर्म No Objection Certificate होता है.
NOC Full Form In TitlesNOC का फुल फ़ौरम form और title के अनदर Non Official Cover
NOC Full Form In StandardsNOC का sports Organization के अनदर National Olympic Committees
NOC Full Form In CommunicationNOC का फुल फ़ॉरम Communication के अनदर Network Operations Center होता है.
NOC Full Form In Sports And Recreation OrganizationsNOC का फुल फ़ौरम form और title के अनदर Non Official Cover
NOC full form in hindiदोस्तौ ऐन ओ सी का फुल फॉर्म हिन्दी मे अनापाति प्रमाण पत्र होता है जिसको हम नो ऑब्जेक्शन सर्टिफिकेट भी कहते है.
NOC Full Form In Firms and OrganizationsNOC का फुल फॉर्म कम्पनी के अनदर National Oil Corporation होता है

NOC क्या होती है

NOC (No Objection Certificate) एक क़ानूनी (Legal) प्रमाण पत्र होता है, जो किसी संगठन, कर्मचारी, एजेंसी, संस्थान मकान मालिक किराएदार या किसी विशेष मामलों में किसी व्यक्ति द्वारा जारी किया जाता है. यह आपको हर उस जगह से लेना होता है, जहां पर किसी भी व्यक्ति को भविष्य में आपके साथ किसी प्रकार के लेनदेन येआ समझोता समस्या हो सकते हैं.

Credit: SSP Education Center

NOC पत्र बहुत सारे परिस्थितियों में बनाए जा सकते हैं उदाहरण के तौर पर समझते हैं

उदाहरण 1: मोबाइल टावर लगवाना – अगर आपको आपके घर के छत पर मोबाइल टावर लगवाना है, तो आपको आस-पड़ोस के सभी घरों से NOC लेना पड़ता है. अगर आप NOC नहीं लेते हैं तो आपको कभी भी उनके द्वारा आपको रुकावट (objection) मिल सकते हैं. वहां पर आपके पास NOC पत्र होना आवश्यक है, तभी आप सभी झंझट से बच सकते हैं.

उदाहरण 2: लोन के समाप्त होने पर –  अगर आप किसी बैंक से लोन लेते हैं और आपको दिए गए समय पर आप बैंक के सारे पैसे चुका देते हैं. तो वहां पर आपको लोन की समाप्ति होने के प्रमाण के तोरपर बैंक से NOC पत्र लेना होता है, यह पत्र बैंक द्वारा दिया जाता है. अगर बैंक आपको NOC पत्र नहीं देते हैं तो आपको खुद बैंक से NOC पत्र के मांग करना चाहिए.

उदाहरण 3: अगर आप कोई जॉब करते हैं और, उसके साथ कोई दूसरी जॉब करना चाहते हैं, तो आपको पहली वाली कंपनी से एक No Objection Certificate लेना पड़ता है. जिसमें लिखा होता है की पहली कंपनी को आपकी दूसरी कंपनी मे जॉब से कोई समस्या (objection) नहीं है.

यह भी पढ़ें Information Technology kya hai? IT Sector में क्या Future है?

NOC का उद्देश क्या है

कोई ऐसा कार्य जहां पर लेनदेन की आपत्ति होने का संभावना हो उस जगह पर NOC प्रमाण पत्र बनाया जाता है. ताकि भविष्य में किसी व्यक्ति द्वारा किसी भी प्रकार की आपत्ती ना हो. इन स्थितियों के लिए NOC (No Objection Certificate) पत्र को जारी किया जाता है. एनओसी कानून लागू करने की उद्देश्य है दोनों पक्ष की सहमति का प्रमाण देना.

आज के समय पर किसी भी कार्रवाई करने से पहले NOC पत्र जरूर लेना चाहिए. NOC पत्र आपके साथ हुए समझौता का पहचान होते हैं. जो आपको भविष्य में संकट मैं पढ़ने से बचाता है. तो याद रखिएगा सरकारी काम हो या बेसरकारी NOC पत्र जरूर लेना किसी भी संस्था, banking, संगठन के साथ काम या समझौता करने से पहले. 

NOC का काम कहां होता है

NOC का काम होता है दुबिधा जनक संभावनाओं से रक्षा करना. भविष्य में अगर किसी व्यक्ति के ऊपर मामला द्वारा आरोप लगाया जाता है तो उसके पास NOC पत्र होने के कारण मामला को समाप्त कर सकते हैं और खुद के ऊपर से आरोप हटा सकते हैं. तब आपके पास NOC पत्र होने के कारण आप किसी प्रकार से दोषी नहीं माने जाएंगे.

NOC लेना क्यों जरुरी है

कई ऐसे संगठन, कार्यस्थल, एजेंसी, संस्थान होते हैं जहां पर आपके साथ पहली दफा में एक तरह के समझौता (agreement) होते हैं, लेकिन धीरे धीरे समझौता बदलना शुरू हो जाते हैं, किसी को इस तरह के दुविधा में नहीं पढ़ना पड़े.

किसी के साथ इस तरह के अन्य ना हो इसलिए सरकार की तरफ से NOC कानून को जारी करवाया गया है. जिसकी मदद से आपके साथ उनके जो समझौता (agreement) होते हैं वह NOC (No Objection Certificate) पत्र में लिखे हुए होते हैं, और उसको ही सार्वजनिक तौर पर सही माना जाता है.

यह भी पढ़ें : OSS Full Form और OSS क्या है हिंदी में

आपने क्या सिखा?

तो दोस्तों इस आर्टिकल में हम No Objection Certificate से जुड़ी हुई सभी खास जानकारी आपको दिए हैं, आपने आज जाना की NOC full form in hindi, NOC क्या होता है? NOC का उद्देश क्या है, NOC का काम कहां होता है और NOC लेना क्यों जरुरी है. 

आशा करते हैं आपको हमारा यह पोस्ट पसंद आया है. अगर आपके कोई प्रश्न है तो हमें नीचे कमेंट बॉक्स में कमेंट करके पुच सकते हैं. आज के हमारे इस छोटे से सफर को यहीं पर समाप्त करते हैं और आपसे हम मिलते हैं हमारे अगले नए जानकारी के साथ, तब तक के लिए खुश रहना स्वस्थ रहना.

Leave a Comment