SDO Full Form in Hindi और कैसे बने हिंदी में पूरी जानकारी 2022

नमस्कार दोस्तों, फिर से एकबार आपका स्वागत है हमारे इस नए जानकारी में, क्या आप जानना चाहते हैं SDO Full Form in Hindi / SDO का Full Form क्या है यहां पर आज हम आपको SDO से जुड़ी हुई सभी महत्वपूर्ण जानकारी देने जा रहे हैं. एसडीओ एक सरकारी पद है, एक एसडीओ बनने के लिए सबसे पहले कुछ जानकारी और परीक्षा का तैयारी करना पड़ता है.

दोस्तों क्या आप एक एसडीओ अधिकारी ( SDO Officer ) बनना चाहते हैं, तो हमारे साथ इस लेख में अंत तक जरूर बने रहे क्योंकि आज हम आपको sdo ka full form kya hai, SDO क्या है / What is SDO in Hindi , SDO Officer Kaise Bane , SDO बनने के लिए आवश्यकता आदि के बारे में बताएंगे. आज के यह पोस्ट बहुत ही महत्वपूर्ण और जानकारी पूर्ण होने वाला है.

अगर आप SDO Officer बनना चाहते हैं और इसके बारे में जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं तो हमारे इस लेख को ध्यान से पढ़ें. हम आपको वादा करते हैं कि अगर आप हमारे इस आर्टिकल को अच्छे से पढ़ते हैं तो आपको SDO के बारे में जानकारी (sub divisional officer in hindi) लेने के लिए कहीं और जाने की जरूरत नहीं पड़ेगी.

SDO Full Form in Hindi / SDO का Full Form क्या है

एसडीओ का फुल फॉर्म है / SDO Full Form = “ Sub Division Officer “ जिस का हिंदी में मतलब है “ उप-भागीय अधिकारी ” . और “ उप मंडल अधिकारी “ होता है, और ये अनुविभागीय अधिकारी उप-मंडल का मुख्य नागरिक अधिकारी होता है।

SDO का Full Form क्या है

SDO Full Form

Serial No. SDO का फुल फॉर्म क्या है SDO Full Form
1. SDO Full Form Sub Division Officer
2. SDO Full Form In Hindi उप-भागीय अधिकारी
3. s d o full form Sub Divisional Office
4. s.d.o full form in hindi Sub Divisional Officer
5. full form of sdo Supervisor Divisional Officer

यह भी पढ़ें 

  1. OSS Full Form और OSS क्या है हिंदी में
  2. OTP Full Form in Hindi । OTP क्या है
  3. MM Full Form In Hindi | Marketing Manager क्या है
  4. OSD Full Form और OSD का मतलब क्या है हिंदी में
  5. B.Ed Full Form In Hindi | B.Ed क्या है पूरी जानकारी

SDO क्या है / What is SDO in Hindi

SDO का मतलब है Sub Division Officer ,  जिस का हिंदी मतलब होता है “ उप-भागीय अधिकारी ” , जो कि एक सरकारी पद है. एसडीओ सरकारी विभाग में होता है जैसे कि बिजली विभाग मे (Electricity Department) , पुलिस विभाग में (Police Department) , समाज कल्याण विभाग मे (Social Welfare Department) आदि ऐसे ही हर एक सरकारी विभाग में एसडीओ अधिकारी रहते हैं.

देश की हर जिले का सरकारी डिपार्टमेंट में एसडीओ अधिकारी नियुक्त होते हैं. सरकार के अंतर्गत कई सारे डिपार्टमेंट होते हैं, इन सभी Department को सही तरीके से चलाने के लिए इन सब डिपार्टमेंट को हर एक राज्यों में बांटा जाता है और इसी तरह हर जगह काम सही तरीके से और विस्तार रूप से करने के लिए इन डिपार्टमेंट को जिलों में बांटा जाता है.

SDO का काम क्या होता है?

SDO एक जिले में कई सारे डिपार्टमेंट होते हैं, डिपार्टमेंट का कामसुचारू रूप से करने के लिए हर डिपार्टमेंट में एसडीओ अधिकारी मौजूद होते हैं और डिपार्टमेंट का काम सही तरीके से चलाने का जिम्मेदारी एक SDO Officer ( Sub Division Officer ) के ऊपर होता है. एसडीओ अधिकारी का कई सारे काम होता है तथा जिले का  देखभाल का और उन्नति का दायित्व इनके के ऊपर नियुक्त होते हैं.

https://youtu.be/BAaVfEN1guE
Credit : govt job genuine notification channel

SDO अधिकारी भूमि राजस्व संहिता ( Land Revenue Code) का शक्ति का उपयोग करता हैं, एक एसडीओ अधिकारी तहसीलदार का प्रमुख होते हैं. एसडीओ Subdivision के मुख्य civil अधिकारी होते हैं. इनके ऊपर सरकार के तरफ से कई सारे काम के जिम्मेदारी नियुक्त होते हैं जैसे कि इंजीनियरिंग विभाग, (CPWD), बिजली विभाग,  डाक विभाग, केंद्रीय लोक निर्माण विभाग, MES (मिलिट्री इंजीनियरिंग सर्विस) विभाग में नियुक्त किया जाता है. 

SDO Officer Kaise Bane / एसडीओ अधिकारी कैसे बने

SDO Officer को हर डिपार्टमेंट में नियुक्त किया जाता है, यह एक सरकारी अधिकारी है विभिन्न प्रकार के कार्य करते हैं. इन अधिकारियों की नियुक्ति सरकारी विभाग के अधिकारियों द्वारा नियुक्ति किया जाता है. अगर आप एसडीओ अधिकारी बनना जाते हैं तो आपको उसके अनुसार मेहनत भी करनी होगी. एसडीओ अधिकारी का चुनाव दो तरह से किया जाता है, 

एक है आपको किसी डिपार्टमेंट के एसडीओ के नीचे एक अधिकारी के रूप में चुना जाता है. कई सारे अधिकारी होते हैं उन्हें किसी काम के माध्यम से training लिया जाता है. उनमें से जो अच्छे तरीके से काम करते हैं उन्हें एसडीओ ऑफिसर बना दिया जाता है. अगर आप भी एक SDO अधिकारी बनना चाहते हैं तो आपकों भी सही तरीके से काम करना होगा.

दूसरा है राज्य सरकार द्वारा आयोजित PSC ( Public Service Commission ) परीक्षा के माध्यम से एसडीओ अधिकारियों को चुना जाता है और इसी तरह से देश की राज्यों में PSC परीक्षा के माध्यम से SDO ऑफिसर का चुनाव होता है. SDO के लिए PSC एक राज्य परीक्षा है ( state level exam) जैसे कि,

State Wise Exam Example

Serial No. State Name Name of The Exam
1. Rajasthan Rajasthan Public Service Commission
2. Uttar Pradesh Uttar Pradesh Public Service Commission 
3. Bihar Bihar Public Service Commission
4. Jharkhand Jharkhand Public Service Commission
5. West Bengal West Bengal Public Service Commission

किसी भी state PSC का फॉर्म भरने के लिए आपका उस राज्य का निवासी होना जरूरी नहीं है, आप किसी भी राज्य का PSC का फॉर्म भर सकते हैं. 

SDO बनने के लिए आवश्यकता 

एक SDO दफ्तर किसी भी सरकारी विभाग के मुख्य कर्मचारी होते हैं. जिनके अंतर्गत कई सारे छोटे कर्मचारी रहते हैं जो उनके निर्देश अनुसार काम करते हैं और एसडीओ ऑफिसर के सामने जवाबदेही होते हैं. एसडीओ जनता की शिकायतों को सुनते हैं और उनका सुधार करते हैं. एसडीओ ऑफिसर अपने टीम के साथ जिला के देखरेख करने में योगदान करते हैं.

अगर आप एक एसडीओ अधिकारी ( SDO Officer ) बनना चाहते हैं तो आपको इसके जानकारी होना बोहोत अबशक है. SDO बनने के लिए आवश्यकता जाने बिना आप एसडीओ अधिकारी बनने का तैयारी नहीं कर सकते हैं. इसलिए यहां पर हम आपको s.d.o. बनने की सभी जानकारी देंगे. अगर आप भी एक एसडीओ ऑफिसर बनना चाहते हैं तो नीचे दिए गए विषय के ऊपर गौर करें. 

एसडीओ बनने की योग्यता / Eligibility to become SDO

चलिए आप जानते हैं एसडीओ ऑफिसर बनने के लिए क्या योग्यता होना चाहिए ( Eligibility to become SDO Officer ) . इस पोस्ट के लिए परीक्षा देने के लिए आपको सबसे पहले form fillup करना होगा. फॉर्म भरने के लिए आपको किसी भी recognized university से graduation पास होना चाहिए. ग्रेजुएशन पास होने पर ही आप इस फॉर्म को भर सकते हैं.

Diploma करके आप इस फ्रॉम को नहीं भर सकते हैं, अगर आप ग्रेजुएशन पास हो गए हैं इया आपका last semester चल रहा है, मतलब appring है तब भी आप इस फॉर्म को भर सकते हैं. किसी भी stream के ऊपर ग्रेजुएशन करके आप फॉर्म apply कर सकते हैं.

Qualification Required

Serial No. योग्यता होना चाहिए Course का Full Form
1. BA Bachelor of Arts
2. B.Com Bachelor of Commerce
3. BBA Bachelor of Business Administration
4. BCA Bachelor’s in Computer Application
5. Engr Engineering
6. Medical None

एसडीओ बनने का Age limit कितना है?

चलिए अब हम जानते हैं SDO बनने के लिए तथा PSC का फॉर्म भरने के लिए age limit क्या है. दोस्तों हर राज्य के लिए सरकार द्वारा निर्धारित एज लिमिट है, फिर भी मान के चलिए PSC का फॉर्म भरने के लिए न्यूनतम आयु होना चाहिए 21 होना साल और  अधिकतम आयु होना चाहिए 40 साल.

यह एज लिमिट सभी के लिए समान है, इससे कम या ज्यादा उम्र के लोग इस फॉर्म को नहीं भर सकते हैं. आप जींस स्टेट का फॉर्म भरते हैं जो छूट मिलेगी वह उसी स्टेट के लोगों के लिए होगी. दूसरे स्टेट के लिए फॉर्म भरते हैं तो उस स्टेट का एज लिमिट लागू होगा और इसके लिए आपको उस स्टेट का एज लिमिट देखना पड़ेगा.

Age Criteria

Serial No. Caste Category Age Criteria
1. General category 21 – 40 Years
2. OBC category 21 – 45 Years
3. SC / ST category 21 – 45 Years
4. PWD 21 – 55 Years

SDO बनने के लिए क्या Qualification होना चाहिए

SDO बनने के लिए मतलब PSC का फॉर्म भरने के लिए आपका graduation पास होना जरूरी है. अगर आप न्यूनतम नंबर से ग्रेजुएशन पास करते हैं फॉर्म भर सकते हैं. फॉर्म भरने के बाद आपको मौका मिलेगा एग्जाम देने का, दोस्तों एसडीओ बनने के लिए आपको 3 दफा में परीक्षा देना पड़ता है.

प्रारंभिक परीक्षा / Preliminary Examination

Preliminary Examination के लिए , इसमें आपको MCQ ( Multiple Choice Question ) solve करना पड़ता है. यहां पर आप कौन हैं 2 paper देने पड़ते हैं General Studies 1 और General Studies 2 . General Studies 1 मैं कुल 150 प्रश्न होते हैं, जोकि 200 नंबर के होते हैं और General Studies 2 मैं कुल 100 प्रश्न होते है जोकि 200 नंबर के होते हैं. 

Type of Paper

  • General Studies 1
  • General Studies 2

Preliminary Examination मैं question 10th level के ही होते हैं. इन दोनों paper solve करने के लिए आपको समय मिलता है 2 घंटे करके. Paper 2 सिर्फ एक qualifying paper है, merit list बनाने के लिए इस नंबर को जोड़ा नहीं जाता है. इसमें आपको 33% मार्क्स लाना आवश्यक है, तभी आप mains exam में बैठ सकते हैं.

मुख्य परीक्षा / Mains Examination

Mains Examination स्टेट पीएससी के लिए काफी महत्वपूर्ण है क्योंकि यही परीक्षा आपको फाइनल एग्जाम तक लेकर जा सकते हैं. इस परीक्षा में कुल 8 पेपर होते हैं General Hindi, Essay, General Studies I, General Studies II, General Studies III, General Studies IV, Optional Subject – Paper I, Optional Subject – Paper II. सभी पेपर के लिए आपको 3 घंटे करके समय दिए जाते है. 

Type of Paper

Serial No. Name Of Paper
1. General Hindi
2. Essay
3. General Studies I
4. General Studies II
5. General Studies III
6. General Studies IV
7. Optional Subject – Paper I
8. Optional Subject – Paper II

साक्षात्कार परीक्षा / Interview Examination

दोस्तों जब आप Preliminary Examination और Mains Examination देकर पास हो जाते हैं तब बाड़ी आता है Interview Examination का. Interview मैं आपसे 200 marks का प्रश्न पूछा जाता है जिसमे आपको कई की तरह के जश्न का उत्तर देना होता है. Interview के माध्यम से ही SDO अधिकारी को चुना जाता है तो इसलिए आपके लिए interview सबसे महत्वपूर्ण है.

परीक्षा ( Examination ) के इन 3 stage चीजों को पूरा करने के बाद ही आप SDO के लिए चुने जाएंगे. ध्यान रखिएगा आपको तीनों क्षेत्र के परीक्षा में एक दफा में पास करना है, अगर आप लिखित परीक्षा में पास होते हैं और interview में फेल करते हैं, तो आपको दोबारा से इन तीनों परीक्षा देना होगा. 

परीक्षा का विषय क्या है / What is the Syllabus of Examination

किसी भी परीक्षा में पास होने के लिए उस परीक्षा के सिलेबस का ज्ञान होना सबसे ज्यादा आवश्यक है. जैसे कि हमने आपको बताया तीन तरह के एग्जाम देना पड़ता है Preliminary Examination , Mains Exam और Interview.तीन तरह के एग्जाम के लिए अलग-अलग syllabus होते हैं और अलग-अलग examination pattern होते हैं. जैसे कि,

1. Preliminary Examination Syllabus

Preliminary Examination की Paper 1 में आप से Current Affair, Indian History, India and World Geography, General Knowledge, Economy, Political Science And Social Development से प्रश्न पूछा जाता है. Preliminary Examination की Paper 2 में आप से Mathematics, Reasoning, English और Hindi से प्रश्न पूछा जाता है.

2. Mains Examination Syllabus

General Hindi से 50 नंबर का प्रश्न पूछा जाता है, Essay Writing मैं तीन टॉपिक से 700 words के लिखना है, General Studies के 4 paper होते हैं जोकि 200 नंबर करके रहेते हैं. पहले 3 paper में Indian History, Economics, World Geography, Disaster, Current Affairs से प्रश्न पूछा जाता है और paper 4 में Ethics से प्रश्न पूछा जाता है. Optional Subject के ऊपर कुल 29 subject होते हैं जिसमें से आपको किसी भी एक विषय के ऊपर परीक्षा देना पड़ता है.

3. Interview Examination Syllabus

 इंटरव्यू के लिए निर्धारित कोई सिलेबस नहीं है,आपसे कुछ भी विषय के ऊपर प्रश्न पूछा जा सकता है, आपको किताब से भी प्रश्न पूछा जा सकता है और आपके जिला के बारे में भी पूछा जा सकता है. यहां पर आपसे जो भी प्रश्न पूछा जाता है उनका उत्तर आपको बहुत ही सोच समझ कर और सही ढंग से देना होता है.

यह भी पढ़ें 

  1. OSS Full Form और OSS क्या है हिंदी में
  2. OTP Full Form in Hindi । OTP क्या है
  3. MM Full Form In Hindi | Marketing Manager क्या है
  4. OSD Full Form और OSD का मतलब क्या है हिंदी में
  5. B.Ed Full Form In Hindi | B.Ed क्या है पूरी जानकारी

Salary of SDO Officer / एसडीओ अधिकारी का वेतन 

SDO Officer / एक एसडीओ अधिकारी के वेतन हर एक राज्य में अलग अलग हो सकते हैं. अगर हनुमान की बात किया जाए तो एक एसडीओ अधिकारी का वेतन लगभग 30,000 – 50,000 से शुरू होता है. जैसे-जैसे experience बढता है वेतन भी धीरे-धीरे बढता है. एक SDO Officer ऑफिसर को कई सारे सुविधा भी मिलते हैं और उनको भाता भी दिए जाते हैं, सब कुछ मिलाकर एक SDO ऑफिसर काफी फायदेमंद होते हैं.

आपने क्या सीखा

दोस्तों आज हम एसडीओ के बारे में जानकारी दिए हैं. हम इस लेख के माध्यम से आपको बताए हैं SDO Full Form in Hindi , SDO क्या है / What is SDO in Hindi , SDO Officer Kaise Bane , SDO बनने के लिए आवश्यकता आदि और भी कई सारी बातों की जीकर आज हम इस लेख के माध्यम से किए हैं.

दोस्तों क्या आप एक SDO अधिकारी बनना चाहते हैं, तो मेरे ख्याल से आपको पढ़ाई के ऊपर ज्यादा ध्यान देने की जरूरत है. मेरे दिए गए सभी जानकारी को अगर आप अच्छे से समझे हैं तो आज से ही इसका तैयारी करना शुरू कर दीजिए. और अच्छे से परीक्षा देने के बाद आप भी एक SDO ऑफिसर बन सकते हैं.

अगर आपने हमारे इस पोस्ट को अच्छी तरह से परे हैं, तो आप कुछ सीखें और जानकारी प्राप्त किए. तो अगर आपको हमारे  यह पोस्ट महत्वपूर्ण और informative लगे हो तो इसे अपने दोस्तों के साथ जरूर शेयर करें. तो हमारे इस सफर को यहीं पर समाप्त करते हैं और आपसे मिलते हैं हमारे अगले ने जानकारी के साथ तब तक के लिए स्वस्थ रहिए खुश रहिए.

Leave a Comment