( Venus Planet ) शुक्र ग्रह के महत्वपूर्ण जानकारी , रोचक और दिलचस्प तथ्य

नमस्कार दोस्तों, आज फिर से एक बार आपके सामने हाजिर है शुक्र ग्रह के महत्वपूर्ण जानकारी लेकर . शुक्र ग्रह के नाम आप जरूर सुने होंगे, और यह भी जानते होंगे कि शुक्र भी एक ग्रह है दूसरे ग्रह की तरह. पर दोस्तों किया आप शुक्र ग्रह की कुछ रोचक और दिलचस्प बातें के बारे में जानते हैं. अंतरिक्ष के हर अद्भुत रहस्य में शुक्र ग्रह की बातें भी शामिल है.

यहां पर आज हम आपको शुक्र ग्रह से जुड़ी हुई सभी महत्वपूर्ण जानकारी देने वाले हैं, शुक्र ग्रह क्या है ? Venus Planet का खोज कब हुई , इस ग्रह का नाम क्यों शुक्र रखा गया. शुक्र ग्रह की महत्वपूर्ण जानकारी के साथ साथ इस ग्रह का कुछ रोचक और दिलचस्प कहानी भी है. तो चलिए जानते हैं शुक्र ग्रह के महत्वपूर्ण जानकारी के बारे में.

शुक्र ग्रह क्या है ? शुक्र ग्रह के महत्वपूर्ण जानकारी

सूर्य मंडल में  शुक्र ग्रह सूर्य के दूसरे स्थान में आते हैं. शुक्र ग्रह के अंग्रेजी नाम है ‘Venus Planet’. शुक्र ग्रह बाकी ग्रह के तुलना में सबसे अधिक गरम है. शुक्र ग्रह का खुद का कोई उपग्रह नहीं है. शुक्र ग्रह का ओजोन 4868500000000000000000 किलोग्राम है.

शुक्र ग्रह में कार्बन डाइऑक्साइड, नाइट्रोजन, सल्फर डाइऑक्साइड, कार्बन मोनोऑक्साइड, हिलियम और नियॉन जैसे आदि द्रव्य पाए जाते हैं.शिक्षा ग्रह का तापमान लगभग 464 डिग्री सेल्सियस तक रहता है. शुक्र ग्रह की गुरुत्वाकर्षण शक्ति 8.8 मीटर/square है. 

यह भी पढ़ें :

शुक्र ग्रह का खोज कब हुई / The Venus Planet discovered

शुक्र ग्रह को हम प्राचीन काल से ही देखते आ रहे हैं. इस ग्रह की चमक इतनी है कि हम इसे बिना किसी यंत्र की यंत्र सहायता से देख सकते हैं. किस ग्रह की खोज किस प्राचीन संपदा को दिए निश्चित रूप से नहीं कहा जा सकता है. इस ग्रह का श्रेय अनेक पुराने सफलता में उल्लेख है. 

दोस्तों क्या आप भी जानना चाहते हैं शुक्र ग्रह की खोज सबसे पहले किसने की थी, तो आपकी जानकारी के लिए बता दे Kopar Nikas और उसके बाद Galileo Galilei को शुक्र ग्रह के खोज के श्रेय दिया जाता है. सन 1761 में Mikhail Lomonosov कि वातावरण की खोज की जिसको बाद में एक अन्य वैज्ञानिक John Bulloch Souter सन 1790 मेंइस खोज को सत्य प्रमाण किया.

शुक्र ग्रह के आयु बुद्ध ग्रहों जितनी ही है 4.5 बिलियन साल. शुक्र ग्रह को सबसे पहले देखने की श्रेय गैलीलियो गैलीली को जाता है, उन्होंने सबसे पहले अपने बनाए हुए टेलिस्कोप के माध्यम से 1610 में शुक्र ग्रहों को देखा था. शुक्र ग्रह पृथ्वी के सबसे निकट ग्रह होने के वजह से इस ग्रह को पृथ्वी से खुले आख से भी देखे जा सकते हैं.

शुक्र ग्रह का नाम क्यों शुक्र रखा गया ?

शुक्र ग्रह के नाम के पीछे भी एक इतिहास है, रोमन की एक देवी थी जिसका नाम है Aphrodite . यह देवी काफी सुंदर और प्रेम की प्रतीक थी और इस देबी के अन्दर बोहोत चमक थी. Aphrodite एक ग्रीक नाम है जिस का अंग्रेजी अनुवाद है Venus. इसी कारण शुक्र ग्रह का भी बहुत चमक होने के वजह से इस देवी का नाम के ऊपर शुक्र ग्रह का नाम Venus रखा गया. 

Credit : Alpha Facts

Venus Planet यानी कि शुक्र ग्रह हमारे सौरमंडल के छठवां सबसे बड़ा ग्रह है जो कि सूर्य के निकट दूसरे नंबर पर है. वैज्ञानिकों के अनुसार शुक्र ग्रह का जन्म आज से करीब 4 अरब साल पहले हुआ था. शुक्र ग्रह अकेला एक ऐसा ग्रह है जिसका नाम किसी महिला के नाम के ऊपर रखा गया है, इस का नाम प्यार और सुंदरता के प्रतीक रोमन देवता Venus के नाम पर रखा गया है.

Venus Planet का Orbit कैसा है?

शुक्र ग्रह सूर्य से अधिकतम दूरी है 10,89,39,000 किमी और नियत्तम दुरी है 10,74,77,000 किमी. अपनी पड़ोसी ग्रह पृथ्वी से शुक्र ग्रह का दूरी है 24,35,30,000 किमी. शुक्र ग्रह का सूर्य के एक चक्कर लगाने में देर दिन ( 1 ½ day ) और देर ( 1 ½ day ) रात लगते हैं. 

शुक्र ग्रह सूर्य के परिक्रमा 12,6,072 किमी/घंटा की रफ्तार से करते हैं. शुक्र ग्रह खुद के परिक्रमा 6.5 किमी/घंटा की तेजी से करता है. शुक्र ग्रह का अपने अक्ष पर 177 डिग्री झुका हुआ है. 

शुक्र ग्रह की कुछ रोचक और दिलचस्प बातें 

  • पृथ्वी की किसी 100 किलोग्राम वस्तु का ओजोन शुक्र ग्रह में 88 किलोग्राम की होगी.
  • शुक्र ग्रह सूर्य से 115 गुना छोटा है , बुध ग्रह से 2.48 गुना बड़ा है , पृथ्वी से 0.94 गुना छोटा है , मंगल ग्रह से 1.78 गुना बड़ा है , बृहस्पति ग्रह से 11.55 गुना छोटा है , शनि ग्रह से 9.62 गुना छोटा है , अरुण ग्रह से 4.19 गुना छोटा है , वरुण ग्रह से 4.6 गुना छोटा है.
  • शुक्र ग्रह की सबसे अद्भुत बात यह है कि, यह ग्रह 177 डिग्री झुका होने के कारण यह ग्रह उल्टा घूमता है.
  • शुक्र ग्रह में सूरज पश्चिम से उगता है और पूरब में डूबता है. 
  • शुक्र ग्रह को पृथ्वी का twins भी कहते हैं क्योंकि दोनों ग्रह का आकार लगभग समान है.
  • शुक्र ग्रह सबसे ज्यादा गर्म है क्योंकि इस ग्रह के वायुमंडल में सबसे ज्यादा कार्बन डाइऑक्साइड है लगभग 96% .
  • शुक्र ग्रह कई महीनों में हमारी पृथ्वी के समान ही है जिसके वजह से इस ग्रह को पृथ्वी के बहन भी कहा जाता है.
  • 15 दिसंबर 1917 में Soviet Union का Verena 7 नमक स्पेसक्राफ्ट शुक्र ग्रह के सतह पर उतरा था. Verena 4 के माध्यम से यह पता चला कि शुक्र ग्रह में 95% से 96% कार्बन डाइऑक्साइड है. Verena 9 शुक्र ग्रह में सुरक्षित उतरा था, Verena 9 शुक्र ग्रह का artificial satellite था.
  • Verena 11 और Verena 12 एयरक्राफ्ट शुक्र ग्रह में सतह पर उतरे पर उतारने के बाद एक रहस्यमय घटना का निर्माण किया की शुक्र ग्रह के वो पृष्ठ में लगातार बिजली गिर रही थी.
  • शुक्र ग्रह में कार्बन डाइऑक्साइड और वायुमंडल के घनत्व काफी ज्यादा होने की वजह से इसमें सूर्य के ताप मात्रा आने के बात वायुमंडल में अटक जाते हैं इस वजह से इस ग्रह का तापमान बाकी ग्रह से सबसे ज्यादा है. 
  • Radiation और convection के कारण यहां दिन और रात का तापमान लगभग एक समान रहते हैं.
  • शुक्र ग्रह की 1 दिन पृथ्वी के 8 महीने के बराबर होते हैं. 

Amazing Facts about Venus Planet in Hindi 

  • शुक्रवार हाल-चाल हमारे चंद्रमा के आसपास रहते हैं हम इस ग्रह को ज्यादा अच्छे से खुली आंख से देख सकते हैं.
  • शुक्र ग्रह का पूरा क्षेत्रफल 460.2 million square किलोमीटर है. शुक्र ग्रह का व्यास 12104 किलोमीटर है.
  • शुक्र ग्रह के वायुमंडल काफी घना है, क्योंकि इस ग्रह के वायुमंडल में कार्बन डाइऑक्साइड और नाइट्रोजन बहुत ज्यादा मात्रा में है, जिसके कारण यहां पर ग्रीन हाउस इफेक्ट होते हैं.
  • वैज्ञानिको के अनुसार शुक्र ग्रह में 100000 से भी ज्यादा ज्वालामुखी मौजूद है.
  • शुक्र ग्रह के ज्वालामुखी शील्ड प्रकार के होते हैं जिसके कारण यह विस्फोट नहीं होते हैं, ज्वालामुखी से लाभा द्रव्य बाहर निकलते रहते हैं.
  • शुक्र ग्रह की धरती ज्वालामुखी धरती है यहां मनुष्य का रहना असंभव है. 
  • शुक्र ग्रह की 1 दिन उसकी 1 साल से बड़ा होता है, क्योंकि इसे सूर्य के चारों और एक चक्कर पूरा करने में 225 दिन लगते हैं.वही इसे अपनी चारोंओर एक चक्कर पूरी करने में 243 दिनों का समय लगता है.
  • शुक्र ग्रह में कभी भी वर्षा नहीं होती है जो देखकर भूवैज्ञानिको हैरानी में आ गए थे.
  • वैज्ञानिकों के माध्यम से एक खबर निकल कर आए हैं कि शुक्र ग्रह भी कभी ज्यादा तेजी से घूमते थे पर किसी बड़े ग्रह से टकराने की वजह से इसकी गति धीमी हो गई है.
  • माना गया कि कभी शुक्र ग्रह में भी जीप का जन्म हुआ था और वहां पर भी पृथ्वी के तरह जीवन का वासना शुरू हो रहा था पर प्रकृतिक दूर जो के कारण यह ग्रह आप ज्वालामुखी ग्रहों में परिवर्तन हुआ. 

यह भी पढ़ें :

आपने क्या सीखा

दोस्तों आज हम  आप को जानकारी दिए हैं शुक्र ग्रह ( Venus Planet ) या फिर आप पृथ्वी के बहन भी क्या सकते हैं. शुक्र ग्रह से जुड़ी हुई लगभग सभी महत्वपूर्ण बातें आज हम इस पोस्ट के माध्यम से कर दिए हैं. आज आपने सीखा है शुक्र ग्रह के बारे में यहां पर हम आज बात किए हैं शुक्र ग्रह क्या है ? शुक्र ग्रह से जुड़ी हुई जानकारी के बारे में.

शुक्र एक ऐसे ग्रह है जो कहीं सारे रहस्यमय रोचक और दिलचस्प बातों से जुड़ी हुई है जो आज हम आपको इस पोस्ट के माध्यम से बताए हैं. दोस्तों हम आशा करते हैं आपको हमारे एक पोस्ट पसंद आए हैं, अगर आपको हमारे यह छोटे से पोस्ट पसंद आए हैं और जानकारी पूर्ण लगे हैं तो आप इसे जरूर अपने दोस्तों के साथ शेयर करें.
आपको हमारे यह पोस्ट यानी Amazing Facts about Venus Planet in Hindi  कैसा लगा हमें कमेंट करके जरूर बताएं. तो दोस्तों आज हम हमारे इस सफर को यहीं पर समाप्त करते हैं और आपसे जल्दी से जल्दी मिलते हैं हमारे अगले नए महत्वपूर्ण जानकारी के साथ तब तक के लिए दोस्तों स्वस्थ रहिए खुश रहिए.

Leave a Comment